Saturday, September 5, 2009

रेखा


जब भी दिन का अंत होता है
मैं रजिस्टर में
एक रेखा के बीच में
क्रॉस लगाती हूँ

मुझे पता नहीं चलता
आदतें
कब हमारी पहचान बन जाती हैं

पता नहीं

No comments:

Post a Comment