Sunday, January 8, 2012

इन्टरेगनम

इन्टरेगनम 

अंग्रेजी का शब्द है यह 
जब कोई संत , पादरी या जो व्यक्ति गद्दी को संभाले है 
उसे छोड़ता है तब अक्सर  
दूसरा एकदम  से प्रकट नहीं होता 
कुछ वक़्त लगता है 

यहाँ की तरह नहीं 
 क़ि राशन की लाइन लगी हो कुर्सी के लिए 

नेताओं की मूर्तियाँ तो ढँक गयीं 
हाथी भी ढँक गए 

इंटर गेनम आ गया लगता है 
कुर्सियां बेचारी थक गयी हैं 
उनकी भी सफाई होना जरुरी है 
अब समय आ गया है क़ि

कुछ वक़्त आराम दिया जाए 
काले धन को 
सफेदपोशों को 

प्रजा चल रही है चलती रहेगी 
देश चल रहा है चलता रहेगा 

सब लोग समाधि लगायें 
चिंतन मनन करें 

जब कोहरा छंट जाए 
समाधि टूट जाए 

तो शायद कोई महापुरुष सपनों में आये 
लोगों के दिलों को भाये
उसे वो कुर्सी पर बिठाएं 
इंटर गेनम 2012 का नाम 
इतिहास के सुनहरे अक्षरों में लिखवायें 

Tuesday, January 3, 2012

barf





पहाड़ों पर 
अक्सर लोग 
कहते हैं कि जब राजा परिक्रमा पूरी कर के अपने घर जाते हैं 
तब बर्फ गिरती है 

दिल्ली के राजाओं ने भी बहुत कर ली परिक्रमा 
न जाने किन किन देवियों के गले मिल कर रो लिए 

अब घर जा कर आराम फरमाएं 
तो स्वर्ग से बरसात हो 
और दो घड़ी चैन से सोती कायनात हो 

Monday, January 2, 2012

खज़ल

 खज़ल

हिमाचल में रोज़मर्रा की बोलचाल में यह शब्द अक्सर सुनने में आता है
अरे ! इसने तो सब खज़ल कर दिया

या फिर 
नहीं ! इस रूट से न जाना सब खज़ल हो जाएगा 
वगैरह वगैरह 

अन्ना जी का लोकपाल 
सरकारी लोकपाल 
सिटिज़न चार्टर 
लोकायुक्त 
सी बी आई 
और भी पता नहीं क्या क्या 

अक्सर सोचती हूँ कि
करप्शन तो गया नहीं सब 
खज़ल हो गया